Sunday, May 26, 2024
Google search engine
HomeTrendingAyodhya Ram Mandir.. राम मंदिर से आए अक्षत (akshat)का क्या करें?कैसे करें...

Ayodhya Ram Mandir.. राम मंदिर से आए अक्षत (akshat)का क्या करें?कैसे करें प्रयोग..इसे 5 तरह से करें प्रयोग

पूरे देश में इस समय राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के उपलक्ष मे  निमंत्रण रूप में पीले अक्षत (akshat)द्वारा निमंत्रण दिया जा रहा है. हमारे आराध्य भगवान श्री राम 500 वर्षों के बाद अपने घर अयोध्या लौट रहे हैं.

 22 जनवरी 2024 को मंदिर के गर्भ गृह में श्री राम लला  की प्राण प्रतिष्ठा होगी.ऐसे में सभी देश वासियों को पीले अक्षत (akshat)के द्वारा निमंत्रण दिया जा रहा है. भगवान श्री राम की तस्वीर और पीले अक्षत (akshat)को घर-घर में पूरे उत्साह से बाँटा जा रहा है.

 इसे एक पर्व की तरह मनाया जायेगा.बहुत ही जोर-शोर से सभी इस दिन के इंतजार में तैयारी कर रहे हैं.

 राम भक्त घर-घर जाकर बेहद खुशी से इस अक्षत (akshat)वितरण में सहयोग कर ने में लगे हैं. प्राचीन समय से ही किसी प्रकार का उत्सव होने पर अक्षत के रूप में लोगों को  निमंत्रण दिया जाता था.

 अक्षत (akshat)यानि कि चावलों को हल्दी में रंग कर निमंत्रण के रूप में भेजा जाता था. हिंदू धर्म में अक्षत (akshat)का बहुत ही ज्यादा महत्व माना जाता है और हर पूजा पाठ में अक्षत का प्रयोग होता है.इसे बेहद शुभकारी माना जाता है.

 लेकिन बहुत सारे लोग अजमंजश की स्थिति में हो गए हैं कि श्री राम मंदिर से निमंत्रण रूप में आए पीले अक्षत का क्या करना है.उन्हें जो निमंत्रण के रूप में पीले अक्षत (akshat)दिए जा रहे हैं उनका क्या करना है.कहां कैसे प्रयोग करें क्या होगा इस अक्षत (akshat)का आदि आदि मन में भाव है.

 ज्योतिषाचार्य के अनुसार आप इन अक्षत को बिना अजमंजस के बिना कन्फ्यूजन के यूं प्रयोग करें…. क्योंकि यह अक्षत बेहद ही शुभ है और बेहद ही मंगलकारी हैं.

 ज्योतिषों के अनुसार अगर आप को भी श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण रूप में अक्षत मिला है तो उसका सदुपयोग आप इस तरह से करें..

.

1– खीर बनायें भोग लगा कर परिवार सहित ग्रहण करें… आप निमंत्रण के रूप में मिले इन अक्षत की खीर बनाएं फिर इस खीर का अपने घर के मंदिर में भोग लगा कर घर के प्रत्येक सदस्य को प्रसाद के रूप में खिलाए.

 आप इसे और लोगों को भी दे सकते हैं ऐसा करने से प्रभु श्री राम की कृपा से घर में सुख समृद्धि बढ़ेगी.

2– अक्षत को धन के स्थान पर रखें… अक्षत यानि कि चावल को शुक्र ग्रह का कारक माना जाता है. शुक्र ग्रह हमें धन सुख सुविधा देता है.इस दृष्टि से भी यह अक्षत बहुत ही शुभ है. इन्हें आप लाल रंग के रेशमी कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी पर्स धन रखने के स्थान पर रखें

 इस प्रकार से मंगल ग्रह और चंद्र ग्रह दोनों ही सक्रिय होकर धन लक्ष्मी योग बनाएंगे. इस से आपके घर में सुख सुविधा और खुशियां घर आएंगी.

3– माथे पर करें तिलक इस अक्षत से… इन अक्षत को आप यूं भी प्रयोग कर सकते हैं.किसी शुभ काम पर जाते समय माथे पर इसका तिलक लगा कर जाएं.इस से आपके काम पूर्ण होंगे और सरलता से बनेंगे.

4– अपने किचन (रसोई) में करें प्रयोग इन अक्षत को… निमंत्रण के रूप में मिले इन अक्षत को आप अपने किचन में खाना बनाने में प्रयोग करें. इस से धन धान्य की बढ़ोतरी होगी.

 नई दुल्हन जब अपनी पहली रसोई में भोजन बनाए तो इन चावलों का प्रयोग करें. इससे घर में खुशहाली आएगी पारिवारिक प्रेम में वृद्धि होगी.

5– इस अक्षत से बेटी का करें कन्यादान… इस अक्षत का अपनी बेटी के कन्यादान में प्रयोग करें. ऐसा करने से बेटी जब ससुराल जाएगी तो वहां खुशहाली और खुशियां आएंगी.

 इस प्रकार से आप अयोध्या राम मंदिर से आने वाले निमंत्रण अक्षत को प्रयोग करें. आपके घर में प्रभु श्री राम की कृपा से सुख समृद्धि और खुशहाली आए और उनकी कृपा आप सब पर सदा बनी रहे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments